HomeOnline Quizस्वास्थ्यशिक्षा/नौकरीराजनीतिसंपादकीयबायोग्राफीखेल-कूदमनोरंजनराशिफल/ज्योतिषआर्थिकसाहित्यदेश/विदेश

नैनीतालः वन विभाग की टीम ने बाघ को किया ट्रेंकुलाइज, ग्रामीणों में राहत

By Alka Tiwari

Published on:

बाघ

Summary

नैनीताल में स्थित कॉर्बेट टाइगर रिजर्व के ढेला जोन में तीन महिलाओं को अपना निवाला बनाने वाले बाघ को वन विभाग की टीम ने ट्रेंकुलाइज कर लिया है। जिसके बाद वन विभाग की टीम ने बाघ को रेस्क्यू सेंटर भेज दिया है। देर रात बाघ पकड़ा गया बता दें पिछले ...

विस्तार से पढ़ें:

नैनीताल में स्थित कॉर्बेट टाइगर रिजर्व के ढेला जोन में तीन महिलाओं को अपना निवाला बनाने वाले बाघ को वन विभाग की टीम ने ट्रेंकुलाइज कर लिया है। जिसके बाद वन विभाग की टीम ने बाघ को रेस्क्यू सेंटर भेज दिया है।

देर रात बाघ पकड़ा गया

बता दें पिछले कुछ समय से बाघ को पकड़ने के लिए कॉर्बेट टाइगर रिजर्व व वेस्टर्न सर्किल की टीम बाघ को पकड़ने की कोशिश कर रही थी। मंगलवार देर रात बाघ द्वारा मारे गए पशु के आसपास वन कर्मियों की टीम ने निगरानी बढ़ा दी थी। देर रात जब बाघ अपने शिकार तक पहुंचा तो वन विभाग की टीम ने उसे ट्रेंकुलाइज कर दिया।

बाघ

नैनीतालः बाघ को पकड़ने गई वनकर्मियों की टीम पर ग्रामीणों ने किया पथराव

ग्रामीणों ने ली राहत की सांस

वन विभाग की टीम ने बाघ को ट्रेंकुलाइज कर ढेला रेस्क्यू सेंटर भेज दिया है। जानकारी के अनुसार कॉर्बेट टाइगर रिजर्व के निदेशक डॉ धीरज पांडे ने बताया कि वन कर्मियों व रेस्क्यू टीम की मेहनत रंग लाई है। जिसके बाद ग्रामीणों ने भी राहत की सांस ली। बता दें आदमखोर बाघ अभी तक तीन महिलाओं और पशुओं को मौत के घाट उतार चुका था।

Alka Tiwari

अलका तिवारी, उत्तराखंड की वरिष्ठ महिला पत्रकार हैं। पिछले एक दशक से अधिक समय से पत्रकारिता में सक्रिय हैं। प्रिंट मीडिया के विभिन्न संस्थानों के साथ ही अलका तिवारी इलेक्ट्रानिक मीडिया, दूरदर्शन व रेडियो में भी सक्रिय रहीं हैं। मौजूदा वक्त में डिजिटल मीडिया में सक्रियता है।