HomeOnline Quizस्वास्थ्यशिक्षा/नौकरीराजनीतिसंपादकीयबायोग्राफीखेल-कूदमनोरंजनराशिफल/ज्योतिषआर्थिकसाहित्यदेश/विदेश

CM Sukhu बोले पापियों का साथ भगवान भी नहीं देता, भाजपा हिमाचल हितैषी नहीं

By Sandhya Kashyap

Published on:

Summary

CM Sukhu ने  कुल्लू जिला के शमशी में किया रोड शो  कुल्लू : जिला के शमशी में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए CM Sukhu ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने अहंकार में आकर विधानसभा में भगवान को चुनौती दी और कहा कि इस सरकार को भगवान ...

विस्तार से पढ़ें:

CM Sukhu ने  कुल्लू जिला के शमशी में किया रोड शो 

कुल्लू : जिला के शमशी में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए CM Sukhu ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने अहंकार में आकर विधानसभा में भगवान को चुनौती दी और कहा कि इस सरकार को भगवान भी नहीं बचा सकता। उन्होंने कहा कि पापियों का भगवान भी साथ नहीं देता है और आम आदमी का हित चाहने वाली प्रदेश सरकार को भगवान ने बचाया है।

CM Sukhu बोले पापियों का साथ भगवान भी नहीं देता, भाजपा हिमाचल हितैषी नहीं

CM Sukhu ने कहा कि राज्यसभा चुनाव में क्रॉसवोटिंग करने के बाद छह बागी एक महीने तक प्रदेश से भागते रहे और एक महीने तक हिमाचल प्रदेश से बाहर रहे। हिमाचल प्रदेश लौटे तो सीआरपीएफ जवानों की सुरक्षा में, जो उन्हें नहीं बल्कि उनके ब्रीफ़केसों को सुरक्षा दे रहे हैं।

उन्होंने कहा कि नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर का गणित कमजोर है, इसलिए वह बार-बार अपनी सरकार बनने का दावा कर रहे हैं। लेकिन वर्तमान राज्य सरकार अपना पांच वर्ष का कार्यकाल अवश्य पूरा करेगी। उन्होंने कहा कि जनता की भावनाओं को ख़रीदने का प्रयास करने वाली भाजपा को जनता कभी माफ़ नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश की संस्कृति को कलंकित करने वालों को सबक़ सिखाने का वक्त आ गया है और प्रदेश की जनता ही लोकतंत्र को बचा सकती है। 

CM Sukhu बोले पापियों का साथ भगवान भी नहीं देता, भाजपा हिमाचल हितैषी नहीं

CM Sukhu ने कहा कि जयराम ठाकुर ने कंगना रणजीत के ख़िलाफ़ भी षडयंत्र रचा और उन्हें मंडी लोकसभा सीट से चुनाव मैदान में उतार दिया। उन्होंने कहा कि कंगना अच्छी हीरोइन हैं, लेकिन उनके निर्देशक फ्लॉप हैं और फ़िल्म का फ्लॉप होना भी तय है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष राजीव बिंदल कंगना के डायलॉग लिख रहे हैं और जयराम ठाकुर डायरेक्शन दे रहे हैं, लेकिन कांग्रेस के प्रत्याशी विक्रमादित्य सिंह राजनीति के हीरो हैं और उनकी जीत हो कर रहेगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी विकास के नाम वोट मांग रही है और प्रदेश के मतदाता विकास को वोट देंगे। 

CM Sukhu ने कहा कि राज्य सरकार ने गाय के दूध का ख़रीद मूल्य 45 रुपए और भैंस के दूध का ख़रीद मूल्य 55 रुपए प्रति लीटर किया। उन्होंने कहा कि दूध के दाम में बढ़ौतरी तो अभी शुरूआत है और राज्य सरकार ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए प्रयास कर रही है।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने मनरेगा की दिहाड़ी बढ़ाकर 300 रुपए, न्यूनतम दिहाड़ी बढ़ाकर 400 रुपए की, विधवाओं के लिए योजनाएं बनाई, कर्मचारियों को चार प्रतिशत महंगाई भत्ता दिया तथा उनका एरियर क्लीयर कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री रहते हुए जयराम ठाकुर पांच वर्ष तक सोते रहे और प्रदेश की संपदा को लुटाते रहे। जबकि वर्तमान राज्य सरकार जाग रही है और चोर दरवाज़े बंद कर रही है, जिससे एक वर्ष में 2200 करोड़ रुपए कमाए। 

CM Sukhu बोले पापियों का साथ भगवान भी नहीं देता, भाजपा हिमाचल हितैषी नहीं

उन्होंने कहा कि भाजपा हिमाचल हितैषी नहीं है। राज्य सरकार ने सरकारी कर्मचारियों को पुरानी पेंशन प्रदान की और हिमाचल भाजपा के नेता केंद्र के पास एनपीएस के 9000 करोड़ रुपए वापस लाने में अड़ंगे लगा रहे हैं। यही नहीं पिछले वर्ष आई आपदा के दौरान राज्य सरकार ने 48 घंटे में कुल्लू जिला में बिजली, पानी और सड़कों को अस्थाई रूप से बहाल किया और 75 हज़ार फँसे हुए पर्यटकों को सुरक्षित घर पहुँचाया।

Also Read : CM Sukhu बोले आर्थिक तंगी के बावजूद कांग्रेस ने दी 1.36 लाख कर्मचारियों को पुरानी पेंशन

इतनी बड़ी आपदा के बीच कहीं भी अराजकता नहीं फैली और हिमाचल प्रदेश में अतिथि देवो भवः की संस्कृति का परिचय दिया। उन्होंने कहा कि केंद्रीय सहायता के बिना ही राज्य सरकार ने 22 हजार परिवारों को फिर से बसाया और नियमों में बदलाव लाकर 4500 करोड़ रुपए का विशेष राहत पैकेज दिया। वहीं भाजपा नेता राजनीति करते रहे और केंद्र सरकार से प्रभावित परिवारों को आर्थिक मदद दिलाने का कोई प्रयास नहीं किया। 

इससे पहले CM Sukhu ने भूंतर से शमशी तक एक रोड शो भी निकाला। इस अवसर पर मंडी से कांग्रेस पार्टी के प्रत्याशी विक्रमादित्य सिंह, मुख्य संसदीय सचिव सुंदर सिंह ठाकुर सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।