HomeOnline Quizस्वास्थ्यशिक्षा/नौकरीराजनीतिसंपादकीयबायोग्राफीखेल-कूदमनोरंजनराशिफल/ज्योतिषआर्थिकसाहित्यदेश/विदेश

CM Sukhu बोले आर्थिक तंगी के बावजूद कांग्रेस ने दी 1.36 लाख कर्मचारियों को पुरानी पेंशन

By Sandhya Kashyap

Published on:

Summary

CM Sukhu : जयराम ठाकुर देख रहे मुंगेरी लाल के सपने सोलन : नालागढ़ में आज CM Sukhu ने आज एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार ने आर्थिक तंगी के बावजूद 1.36 लाख सरकारी कर्मचारियों को पुरानी पेंशन दी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में ...

विस्तार से पढ़ें:

CM Sukhu : जयराम ठाकुर देख रहे मुंगेरी लाल के सपने

सोलन : नालागढ़ में आज CM Sukhu ने आज एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार ने आर्थिक तंगी के बावजूद 1.36 लाख सरकारी कर्मचारियों को पुरानी पेंशन दी है।

CM Sukhu बोले आर्थिक तंगी के बावजूद कांग्रेस ने दी 1.36 लाख कर्मचारियों को पुरानी पेंशन

उन्होंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद पहली ही कैबिनेट बैठक में अपने चुनावी वादे को पूरा करते हुए पुरानी पेंशन स्कीम को बहाल कर लाखों सरकारी कर्मचारियों के भविष्य को सुरक्षित किया है। आज 4 हजार से ज्यादा कर्मचारी पुरानी पेंशन स्कीम का लाभ ले रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि एनपीएस के 9000 करोड़ रुपए अभी भी केंद्र सरकार के पास फँसे हैं, जिसे वापस पाने के लिए लड़ाई लड़ी जा रही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने चार प्रतिशत मंहगाई भत्ता भी सरकारी कर्मचारियों को दे दिया है।

भाजपा पर हमला बोलते हुए CM Sukhu ने कहा कि जनता के वोट से जब भाजपा सरकार बनाने में कामयाब नहीं हुई, तो उसे पैसों के दम पर हथियाने का प्रयास किया, लेकिन भाजपा के मंसूबे पूरे नहीं हो सके। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार पूरी तरह से स्थिर है और अपना पांच वर्ष का कार्यकाल अवश्य पूरा करेगी।

Also Read : CM Sukhu ने फिर ली BJP पर चुटकी : BJP की स्क्रिप्ट, कंगना अदाकारा, जयराम निर्देशक और फिल्म होगी फ्लॉप

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

जयराम ठाकुर मुख्यमंत्री बनने के लिए मुंगेर लाल के सपने देख रहे हैं, जो कभी पूरे नहीं होंगे। उन्होंने कहा कि स्थानीय विधायक केएल ठाकुर पर जनता ने बहुत विश्वास किया, लेकिन उन्होंने लोगों के साथ विश्वासघात किया है। पहले तो मुझे कहा कि आपने मेरे सारे काम कर दिए हैं, लेकिन राज्यसभा चुनाव के बाद हेलीकॉप्टर में बैठकर बाय-बाय कर चलते बने। एक महीने तक प्रदेश के बाहर महँगे होटलों में रहने के बाद वापिस आकर कह रहे हैं कि हमारा इस्तीफ़ा स्वीकार कर लो। उन्होंने कहा कि विधायक बनने के बाद कौन अपना इस्तीफ़ा हाथ में लेकर घूमता है।

CM Sukhu ने कहा कि नदियाँ व खड्डें खोदकर अपना घर भरने वाले कभी भी जनता के सेवक नहीं हो सकते। उन्होंने कहा कि भाजपा सांसद सुरेश कश्यप ने क्षेत्र के विकास में कोई योगदान नहीं दिया। जब आपदा आई तो कश्यप ने हिमाचल प्रदेश को आर्थिक मदद देने के लिए किसी केंद्रीय मंत्री को एक चिट्ठी तक नहीं लिखी।

CM Sukhu बोले आर्थिक तंगी के बावजूद कांग्रेस ने दी 1.36 लाख कर्मचारियों को पुरानी पेंशन

उन्होंने कहा कि भाजपा का कोई भी सांसद केंद्र सरकार से आर्थिक मदद माँगने के लिए केंद्रीय मंत्रियों के पास नहीं गया। जबकि राज्य सरकार ने आपदा से प्रभावित 22 हजार परिवारों के लिए क़ानून बदल दिया और अपने संसाधनों से 4000 करोड़ रुपए का पैकेज दिया। उन्होंने कहा कि अब भाजपा प्रत्याशी अपने काम के बजाय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर वोट मांग रहे हैं।

CM Sukhu ने कहा कि राज्य सराकर ने पेंसेंजर और गुड्स टैक्स पर लगी पेनल्टी और ब्याज को माफ़ कर 1.60 लाख ट्रक ऑपरेटरों को बड़ी राहत दी है। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में इन गुड्स कैरियर ऑपरेटर्स को नुकसान उठाना पड़ा था, जिसे देखते हुए राज्य सरकार ने मानवीय दृष्टिकोण अपनाया। उन्होंने कहा कि वह एक साधारण परिवार से निकलकर मुख्यमंत्री की कुर्सी तक पहुँचे हैं और ग्याहरवीं कक्षा से अपना राजनीतिक जीवन शुरू किया है।

उन्होंने कहा कि 40 वर्ष के राजनीतिक जीवन में उन्होंने कभी भी अपने सिद्धांतों से समझौता नहीं किया। इसीलिए मुख्यमंत्री बनने के बाद सिर्फ जनसेवा करना एक मात्र उद्देश्य है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार शराब के ठेकों की नीलामी से 850 करोड़ रुपए की अतिरिक्त आय प्राप्त की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछली भाजपा सरकार में नौकरियाँ बिकती रहीं और जयराम ठाकुर सोए रहे। लेकिन सत्ता सँभालने के बाद वर्तमान राज्य सरकार ने कड़े फैसले लिए और भ्रष्टाचार का अड्डा बन चुके हमीरपुर अधीनस्थ कर्मचारी चयन आयोग को भंग कर दिया।

ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि आम लोगों की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने राजस्व कानूनों में बदलाव किया और राजस्व लोक अदालतों का प्रदेश भर में आयोजन किया। उन्होंने कहा कि इन राजस्व लोक अदालतों में एक लाख से अधिक इंतकाल और साढ़े सात हजार से अधिक तकसीम के मामले निपटाए गए हैं। इस अवसर पर शिक्षा मंत्री रोहित ठाकुर, कांग्रेस पार्टी के लोकसभा प्रत्याशी और कसौली से विधायक विनोद सुल्तानपुरी, कांग्रेस नेता बाबा हरदीप सिंह, जिला कांग्रेस अध्यक्ष शिव कुमार शर्मा सहित पार्टी के पदाधिकारी उपस्थित रहे।