HomeOnline Quizस्वास्थ्यशिक्षा/नौकरीराजनीतिसंपादकीयबायोग्राफीखेल-कूदमनोरंजनराशिफल/ज्योतिषआर्थिकसाहित्यदेश/विदेश

CM Sukhu ने कांगड़ा जिला को दी 509 करोड़ रुपये से अधिक के विकास कार्यों की सौगात, सुलह को तहसील का दर्जा देने की घोषणा

By Sandhya Kashyap

Published on:

Summary

CM Sukhu ने सुलह को तहसील का दर्जा देने की घोषणा की CM Sukhu ने आज कांगड़ा जिला के अपने एक दिवसीय प्रवास के दौरान पालमपुर, जयसिंहपुर और सुलह विधानसभा क्षेत्र में 509 करोड़ 18 लाख की विभिन्न विकास परियोजनाओं के उद्घाटन तथा शिलान्यास किए। इस दौरान उन्होंने जयसिंहपुर विधानसभा ...

विस्तार से पढ़ें:

CM Sukhu ने सुलह को तहसील का दर्जा देने की घोषणा की

CM Sukhu ने आज कांगड़ा जिला के अपने एक दिवसीय प्रवास के दौरान पालमपुर, जयसिंहपुर और सुलह विधानसभा क्षेत्र में 509 करोड़ 18 लाख की विभिन्न विकास परियोजनाओं के उद्घाटन तथा शिलान्यास किए।

इस दौरान उन्होंने जयसिंहपुर विधानसभा क्षेत्र में कुल 140 करोड़ 67 लाख, पालमपुर क्षेत्र में 302 करोड़ 51 लाख तथा सुलह विधानसभा क्षेत्र में लगभग 66 करोड़ के विकास कार्यों के उद्घाटन-शिलान्यास किए।

CM Sukhu ने कांगड़ा जिला को दी 509 करोड़ रुपये से अधिक के विकास कार्यों की सौगात, सुलह को तहसील का दर्जा देने की घोषणा

CM Sukhu ने जयसिंहपुर विधानसभा क्षेत्र को 141 करोड़ रुपये के विकास कार्यों की सौगात दी

मुख्यमंत्री ने जयसिंहपुर विधानसभा क्षेत्र में 13 करोड़ 30 लाख रूपये से निर्मित दो परियोजनाओं का उद्घाटन तथा 127 करोड़ 37 लाख से बनने वाली 15 परियोजनाओं का शिलान्यास किया। उन्होंने 2 करोड़ 26 लाख की लागत से निर्मित उपतहसील कार्यालय भवन आलमपुर तथा 11 करोड़ 4 लाख की लागत से जलजीवन मिशन के अन्तर्गत निर्मित उठाऊ पेयजल योजना द्रमण जलग के उन्नयन कार्य का लोकार्पण किया।

उन्होंने 2 करोड़ 71 लाख की लागत से बनने वाले बहुतकनीकी तलवाड़ का सुविधा ब्लॉक, 10 करोड़ से बनने वाले बहुउद्देशीय इंडोर स्टेडियम जयसिंहपुर, 5 करोड़ की लागत से बनने वाले राजीव गांधी मॉडल डे बोर्डिंग स्कूल जयसिंहपुर, 7 करोड़ 15 लाख की लागत से बनने वाले कुरु केलन से कोटलू सड़क व मंद खड्ड पर पुल, 8 करोड़ की लागत से बनने वाली नड्ली से घरचींडी सड़क के शेष कार्य, 6 करोड़ 30 लाख की लागत से बनने वाले सल्याली खड्ड पर पुल सहित उम्मर गांव के लिए संपर्क सड़क,

8 करोड़ 39 लाख की लागत से बनने वाले पपरोला से आलमपुर सड़क पर न्युगल खड्ड पर पुल, 9 करोड़ 73 लाख की लागत से धूपक्यारा झुंगा देवी सड़क का उन्नयन कार्य, 4 करोड़ 79 लाख की लागत से नाहलना से गदियाड़ा सड़क का उन्नयन कार्य, 6 करोड़ 52 लाख लागत से मोलग से मैला सड़क का उन्नयन कार्य और 5 करोड़ 47 लाख की लागत से रायपुर से लम्बागांव वाया सुगड़ी दा बाग सड़क के उन्नयन कार्य का शिलान्यास किया।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

CM Sukhu ने 34 करोड़ 24 लाख से पंचरुखी तथा जयसिंहपुर विधानसभा क्षेत्र के साथ लगते इलाकों की विभिन्न पंचायतों की उठाऊ पेयजल योजना, 8 करोड़ 26 लाख से बहाव सिंचाई योजना के तहत तकरूहल कूहल, परनूहल सलियाना कूहल और छठामी कूहल के निर्माण कार्य तथा 7 करोड़ 59 लाख से प्रवाह सिंचाई योजना के तहत परनूहल कूहल, सिंबलु कूहल तथा तकरूहल कूहल के कमान क्षेत्र विकास कार्य की आधारशिला रखी।

जयसिंहपुर विद्युत मंडल के तहत 3 करोड़ 23 लाख रुपये की लागत से बनने वाले 33/11 के.वी. सब स्टेशन रक्कड़/अंद्रेटा का आधारशिला रखी।

CM ने 7.03 करोड़ रुपये से निर्मित होने वाले 33/11 केवी उपकेंद्र न्यूगल ऐमा और 7.16 करोड़ रुपये से निर्मित होने वाले 33/11 केवी उपकेंद्र बनोरडू का शिलान्यास किया।

CM Sukhu : पालमपुर में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सरकार तैयार कर रही ‘ब्लू प्रिंट’

इसके बाद मुख्यमंत्री ने पालमपुर स्थित विला कैमिलिया में 33 करोड़ 4 लाख रुपये की लागत से निर्मित जलशक्ति विभाग की तीन परियोजनाओं का उद्घाटन किया। वहीं 269 करोड़ 47 लाख से बनने वाली विभिन्न विभागों की 18 परियोजनाओं का शिलान्यास किया।

उन्होंने 25 करोड़ रुपये की लागत से बिंध नाले के निकटवर्ती इलाकों की वितरण प्रणाली और पालमपुर विधानसभा क्षेत्र की विभिन्न पेयजल आपूर्ति योजना के सुधारीकरण कार्य, 2 करोड़ 78 लाख से गदियाड़ा, आसानपत और ब्रह्मत्रहेरू में घरेलू कनेक्शन प्रदान करने के लिए उठाऊ जल आपूर्ति योजना के सुधारीकरण कार्य, 5 करोड़ 17 लाख से द्रोग्नू, थल्ला और भगोटला में घरेलू कनेक्शन प्रदान करने के लिए जल आपूर्ति योजना के सुधारीकरण कार्य का उद्घाटन किया।

मुख्यमंत्री ने 6 करोड़ 42 लाख रुपये से गैहर, स्पैड़ू, कण्डवाड़ी, रजेहड़ सड़क व पुल निर्माण कार्य, 9 करोड़ 62 लाख रुपये से नाबार्ड के तहत रामपुर, रजेहड़, सरसावा, कपेहण नीलकण्ठ मंदिर, भदरैणा सड़क के निर्माण एवं उन्नयन कार्य, 9 करोड़ 3 लाख रुपये से नाबार्ड के तहत पटटी से गोरट वाया हरिजन व गुज्जर बस्ती सड़क व पुलों का निर्माण, 4 करोड़ 28 लाख रुपये से मनियाड़ा कोठी सड़क का उन्नयन कार्य, 9 करोड़ 86 लाख रुपये से सिद्धपुर सरकारी मोहरला कल्याड़कर समूला खास सड़क का उन्नतिकरण, 4 करोड़ 72 लाख से रठां रोपा, कपूर बस्ती, दत्तल घाड़ वाया जगरेणा सड़क का उन्नयन, 5 करोड़ से राजीव गांधी डे बोर्डिंग स्कूल कमलेहर,

48 करोड़ रुपये से नगर निगम पालमपुर में जलापूर्ति योजना का सुधार एवं विस्तार कार्य, 135 करोड़ 40 लाख रुपये से पालमपुर शहर में पानी और स्वच्छता सुविधाएं प्रदान करने का कार्य, 1 करोड़ 57 लाख रुपये से प्रवाह सिंचाई योजना नेई कूहल का सुधार एवं पुनरोद्धार तथा हेड चौनल तथा अन्य शेष कार्य, 5 करोड़ 10 लाख रुपये से प्रवाह सिंचाई योजना कुसमल कूहल का सुधार कार्य, 6 करोड़ 78 लाख से हाउसिंग बोर्ड कलोनी बिंद्राबन में बाढ़ सुरक्षा कार्य, 10 करोड़ 10 लाख रुपये से जलापूर्ति योजना पालमपुर का सुधार एवं विस्तार,

एक करोड़ से नगर निगम पालमपुर वार्ड नंबर-2 में राधा कृष्ण मंदिर के बगल में पार्किंग का निर्माण, 70 लाख रुपये से नगर निगम पालमपुर आयुक्त आवास का निर्माण, 2 करोड़ रुपये से नगर निगम पालमपुर क्षेत्र में सामुदायिक भवन का निर्माण तथा 65 लाख रुपये से सौरभ वन विहार में टॉय ट्रेन की खरीद एवं स्थापना कार्य का शिलान्यास किया।

सुलह विधानसभा क्षेत्र में 59 करोड़ 34 लाख रुपये की दस परियोजनाओं का उद्घाटन

मुख्यमंत्री ने सुलह विधानसभा क्षेत्र में 59 करोड़ 34 लाख रुपये की लागत से निर्मित लोक निर्माण विभाग की दस परियोजनाओं का उद्घाटन तथा 6 करोड़ 85 लाख रुपये से बनने वाली एक परियोजना का शिलान्यास किया। उन्होंने नाबार्ड के तहत 10 करोड़ 93 लाख रुपये की लागत से निर्मित थुरल बच्छवाई सड़क के शेष कार्य तथा न्यूगल खड्ड पर स्पैन पुल, 2 करोड़ 87 लाख रुपये से निर्मित सम्पर्क मार्ग समाना भरेश्वर मंदिर से भोडा,

5 करोड़ 81 लाख रुपये से निर्मित सरवा, कनालपट्ट, रमेहड़, भवारना, भाट्टी, समलेना रोड से लिंक रोड, 7 करोड़ 4 लाख रुपये से रड पनयाली से कोल्हरु, घमून, गलुही, कलुना तक लिंक रोड, 6 करोड़ 44 लाख रुपये से पनयाली से धलेरा खोली और भदरोल से झुंगा देवी मंदिर तक लिंक रोड के उन्नयन कार्य। 21 करोड़ तीन लाख रुपये से परौर धीरा नौरा से पुड़वा सड़क का विस्तारीकरण एवं सुदृढ़ीकरण,

1 करोड़ 72 लाख रुपये से भवारना में निर्मित लोक निर्माण विभाग के 6 नंबर टाईप-3 आवासीय परिसर, 80 लाख रुपये से निर्मित सहायक अभियंता थुरल के कार्यालय व आवास, 1 करोड़ 21 लाख रुपये से निर्मित प्रारंभिक शिक्षा खण्ड अधिकारी थुरल कार्यालय भवन तथा 1 करोड़ 51 लाख रुपये से निर्मित खड़ौठ से घनैटा वाया माहतं नगर सड़क पर ताल खड्ड पर 30 मीटर स्पैन पुल का उद्घाटन किया। उन्होंने 6 करोड़ 85 लाख रुपये से नाबार्ड के तहत वारठ से चौकी भरसोला वाया ढईं तक लिंक रोड के निर्माण कार्य का शिलान्यास किया।

CM Sukhu ने आज कांगड़ा जिले के सुलह विधानसभा क्षेत्र के मनसिम्बल में जनसभा को संबोधित करते हुए सुलह को तहसील का दर्जा देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश की अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ करने के लिए अनेक प्रभावी कदम उठाए हैं तथा समाज के प्रत्येक वर्ग के कल्याण के लिए अनेक योजनाएं आरम्भ की हैं।

उन्होंने कहा कि सरकारी कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन योजना बहाल की है ताकि उनका बुढ़ापा सुरक्षित हो सके। उन्होंने कहा कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए प्रदेश सरकार ने बजट 2023-24 में नवीन योजनाएं आरम्भ की हैं। पशुपालकों के हितों को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने गाय के दूध का समर्थन मूल्य 45 रुपए प्रति लीटर, जबकि भैंस के दूध का समर्थन मूल्य 55 रुपए प्रति लीटर किया। इसके साथ ही मनरेगा मजदूरी में 60 रुपए की बढ़ोतरी की गई है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के बागी विधायकों ने भाजपा के साथ मिलकर सरकार को गिराने की साजिश रची। वह एक योद्धा हैं और साजिशों से घबराने वाले नहीं हैं। बागी विधायकों का अपना कोई वजूद नहीं है, जब जीत चाहिए थी तो कांग्रेस के चिन्ह पर चुनाव लड़ा, लेकिन राज्यसभा चुनाव में पार्टी को धोखा दिया और सत्ता हथियाने के लिए धन-बल का सहारा लिया।

बागी विधायकों ने अपने चुनाव क्षेत्र की जनता से धोखा किया है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र की हत्या करने वालों को जनता कभी माफ नहीं करेगी और जनता के स्नेह से वर्तमान राज्य सरकार पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी।

उन्होंने कहा कि प्रदेशभर में आपदा से बहुत अधिक नुकसान हुआ। राज्य सरकार ने आपदा प्रभावित परिवारों के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में 5000 रुपये और शहरी क्षेत्रों में 10000 रुपये मासिक किराए का प्रावधान किया है।

CM Sukhu ने कहा कि वह सामान्य परिवार से सम्बंध रखते हैं और आम आदमी की पीड़ा से भली-भांति परिचित हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने कानून बनाकर अनाथ बच्चों की देखभाल के लिए मुख्यमंत्री सुख-आश्रय योजना आरंभ की है और सरकार विधवाओं एवं एकल नारी के बच्चों की शिक्षा का खर्च भी वहन कर रही है।

उन्होंने कहा कि क्षेत्र के विकास से संबंधित राज्य सहकारी एवं ग्रामीण विकास बैंक के अध्यक्ष संजय चौहान की सभी मांगों को पूरा किया जाएगा। इस अवसर पर संजय चौहान ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि पूर्व सरकार के कार्यकाल में सुलह का आशातीत विकास नहीं हो पाया जबकि वर्तमान सरकार नेे क्षेत्र के चहुंमुखी विकास को गति प्रदान की है।

इस अवसर पर आयुष मंत्री यादविंद्र गोमा, मुख्य संसदीय सचिव किशोरी लाल एवं आशीष बुटेल, विधायक संजय रतन, हिमाचल प्रदेश कांगड़ा सहकारी बैंक के अध्यक्ष कुलदीप सिंह पठानिया, उपायुक्त हेमराज बैरवा सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

Also Read : CM Sukhu ने फिर बोला बागियों पर हमला, कहा प्रदेश के लोगों से विश्वासघात करने वालों को जनता माफ नहीं करेगी https://rb.gy/4orxa3