HomeOnline Quizस्वास्थ्यशिक्षा/नौकरीराजनीतिसंपादकीयबायोग्राफीखेल-कूदमनोरंजनराशिफल/ज्योतिषआर्थिकसाहित्यदेश/विदेश

हिमाचल राजनीति : राजेंद्र राणा बोले हम हिमाचलियों के साथ, इसलिए किया हर्ष महाजन को वोट 

By Sandhya Kashyap

Published on:

Summary

हिमाचल से राज्यसभा सांसद के लिए आशा कुमारी, रामलाल,कौल सिंह या कांग्रेस कार्यकर्ता  होते सही विकल्प शिमला (संजीव कपूर) : बागी नेता राजेंद्र राणा का एक और चौंकाने वाला बयान आया है । राजेंद्र राणा ने इस बयान में स्पष्ट किया है कि उन्होंने कई बार सुक्खू सरकार, हाईकमान को एक हिमाचली ...

विस्तार से पढ़ें:

हिमाचल से राज्यसभा सांसद के लिए आशा कुमारी, रामलाल,कौल सिंह या कांग्रेस कार्यकर्ता  होते सही विकल्प

शिमला (संजीव कपूर) : बागी नेता राजेंद्र राणा का एक और चौंकाने वाला बयान आया है । राजेंद्र राणा ने इस बयान में स्पष्ट किया है कि उन्होंने कई बार सुक्खू सरकार, हाईकमान को एक हिमाचली को टिकट देने की गुजारिश की थी कि किसी हिमाचली को राज्यसभा चुनकर भेजा जाए जो हिमाचल के हितों का जानता हो फिर चाहे वो कोई जुझारू कार्यकर्ता या फिर कोई हारा हुआ  विधायक ही क्यों ना हो। उन्होंने कहा कि क्या मुख्यमंत्री महोदय को आशा कुमारी, रामलाल, कौल सिंह में कोई भी गुण नज़र नहीं आया जो उन्होंने मनु सिंघवी को राज्यसभा के लिए बाहर से एक्सपोर्ट किया।

हिमाचल राजनीति : राजेंद्र राणा बोले हम हिमाचलियों के साथ, इसलिए किया हर्ष महाजन को वोट 

राजेंद्र राणा ने कहा कि हिमाचल सरकार चंद दिनों की ही मेहमान है। उन्होंने बताया कि उन्होंने हर्ष महाजन को हिमाचली होने के नाते वोट दिया है जो  कांग्रेस के वरिष्ठ कार्यकर्ता रहे हैं। उन्होंने बताया कि 7 से 9 विधायक उनके संपर्क में है जिन्हें कांग्रेस पार्टी में घुटन महसूस हो रही है वह भी उनके साथ आना चाहते हैं उन्होंने कहा कि सवा साल से वो कई बार हाईकमान को अवगत करवा रहे हैं कि प्रदेश में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। सीएम सुक्खू विधायकों को जलील और अपमानित करते हैं। ना ही विधायकों के काम करते हैं।

हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस नहीं बल्कि सिर्फ सुक्खू मित्र मंडली की सरकार है। कई बार बोलने के बाद भी कोई असर नहीं हुआ। उन्होंने आरोप लगाया कि बिना उनका पक्ष जाने उनकी तरफ एकतरफा कार्रवाई की गई है जिसको प्रदेश की जनता कतई बर्दाश्त नहीं करेगी। अपने निष्कासन की बात करते हुए उन्होंने कहा  कि प्रदेश की जनता ने उनको चुनकर भेजा है और उनकी लड़ाई लड़ने के लिए वो सुप्रीम कोर्ट तक जाने में गुरेज नहीं करेंगे । 

Also Read : हिमाचल : प्रदेश में भारी बारिश-बर्फबारी के चलते 4 NH समेत 354 सड़कें बंद, 1314 ट्रांसफार्मर ठप https://rb.gy/cx77m6