HomeOnline Quizस्वास्थ्यशिक्षा/नौकरीराजनीतिसंपादकीयबायोग्राफीखेल-कूदमनोरंजनराशिफल/ज्योतिषआर्थिकसाहित्यदेश/विदेश

बिलासपुर के थिएटर में नवीन वात्सायन की फिल्म बैर मेले दा देखने पहुंचे लोग, अभिनय को किया पसंद 

By Sandhya Kashyap

Published on:

Summary

नवीन वात्सायन मेहनत से हर प्रतिभाशाली एक्टर को मिलती है मुंबई की मायानगरी में जगह बिलासपुर (अभिषेक मिश्रा) : बॉलीवुड में एक चर्चित युवा नाम बनते जा रहे नवीन वात्सायन  ने कुछ ही वर्षो की अपनी अथक संघर्ष और प्रयासों से इस बात को साबित कर दिया कि  सब्र, मेहनत ...

विस्तार से पढ़ें:

नवीन वात्सायन मेहनत से हर प्रतिभाशाली एक्टर को मिलती है मुंबई की मायानगरी में जगह

बिलासपुर (अभिषेक मिश्रा) : बॉलीवुड में एक चर्चित युवा नाम बनते जा रहे नवीन वात्सायन  ने कुछ ही वर्षो की अपनी अथक संघर्ष और प्रयासों से इस बात को साबित कर दिया कि  सब्र, मेहनत और भाग्य से हर प्रतिभाशाली एक्टर को मुंबई की मायानगरी में जगह मिल सकती है।

बिलासपुर के थिएटर में नवीन वात्सायन की फिल्म बैर मेले दा देखने पहुंचे लोग, अभिनय को किया पसंद 

बिलासपुर के नवीन वात्सायन इस युवक के सशक्त अभिनय को पंजाबी फिल्म बैर मेले दा में देखने के लिए बिलासपुर के पूर्णम मॉल के थिएटर में हजारों की संख्या में लोग उमड़े थे जो निश्चित रूप से नवीन वात्सायन के लिए आशीर्वाद था। इस पंजाबी फिल्म ’वैर मेले दा’ की शूटिंग देहरादून के विकास नगर, लांघा तथा कई अन्य काफी खूबसूरत जगहों  में की गई है क्योंकि फ़िल्म के निर्माता उत्तराखंड के हैं इसलिए इसकी शूटिंग वहीं हुई है। जस्सी के किरदार में नवीन वात्सायन इस फिल्म की कहानी का केंद्र बिंदु हैं क्योंकि फिल्म के एक सीन में उनकी हत्या के उपरांत ही दो परिवारों में आपसी जंग छिड़ती है।

इस फिल्म में नायिका की भूमिका ऐश्वर्या अरोड़ा ने निभाई है जो नवीन की बहन बनी हैं। उनके साथ बॉलीवुड के सुप्रसिद्ध एक्टर और हिंदी फिल्मों के मशहूर विलन रंजीत तथा नायक देव दत्त, सुदेश बेरी, अरुण बक्शी तथा पिंकी सोनी ने भी काम किया है। इस फ़िल्म के निर्देशक हैं राकेश जग्गी और निर्माता दुर्गा तथा को-प्रोड्यूसर उत्तम हैं। डायरेक्टर ऑफ़ फोटोग्राफी राजेंद्र शर्मा की है। फ़िल्म की बहुत ही अलग स्टोरी है, अक्सर रिश्तेदारी में जैसा लोग आपस में झगड़ा क्लेश करके पीढ़ियों की पीढ़ियां दुश्मनी कर लेते हैं उसी पर आधारित है

यह फिल्म है और इसमें यही संदेश दिया है कि आपस में दुश्मनी या बैर रखने से मिलना कुछ नहीं है, सब बर्बाद ही होना है। रिश्ते भी खत्म हो जाते हैं। इसलिए मिलजुल के, हंस खेलकर रहो। ऐश्वर्या का किरदार (प्रीत)  ऐसा है कि वह अपने भाईयों से बहुत प्यार करती है और एक दिन खानदानी दुश्मनी की वजह से उसके एक भाई (जस्सी) को मार दिया जाता है तो प्रीत बदला लेने की ठान लेती है।

प्रीत के दादा (रंजीत ) भी उसे समझाते हैं कि यह बदला हम मर्द लोग ले लेंगे, क्योंकि यह काम लड़कियों का नहीं है पर प्रीत अपनी जिद्द में उनकी एक नहीं सुनती और ऐलान कर देती है जंग का। प्रीत अपने चारों भाइयों से भी कह देती हूं कि उसके रास्ते में जो आएगा वह उसे भी मार देगी। यह बदला मेरा अकेले का है और मैं ही इस बदले को उस इंसान को मार के पूरा करूंगी जिसने मेरे भाई को मारा है।

इससे पहले नवीन वात्सायन ने हिमाचल तथा मुंबईया फिल्म जगत में अभी तक विभिन्न फिल्मों और सीरियलों में काम किया है। लगभग दो दशक पहले ज़िला बिलासपुर से संबंध रखने वाले नवीन वात्सायन कोल “डैम एथी लगया” गीत में एक मॉडल के रूप में नज़र आए । इसके बाद प्रसिद्ध मंच व्यास उत्सव में वर्ष 2005 में मिस्टर बिलासपुर अवार्ड जीतकर फिर अपनी कला का डंका बजाया। वर्ष 2012 में बॉलीवुड एक्टर अनुपम खेर के सौजन्य से शिमला में एक वर्कशॉप में भाग लिया।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

नवीन वात्सायन वर्ष 2016 में सलमान खान अभिनीत फिल्म ट्यूबलाइट में एक छोटी सी भूमिका में नज़र आए। इसके बाद एकता कपूर के बैनर अलट बाला जी में आई एक वेब सीरीज  “हक़ से” में राजू खेर  जैसे दिग्गज अभिनेता व प्रसिद्ध निर्देशक केन घोष के निर्देशन में काम करने का अवसर मिला। इसी बीच एड्डी सिंह द्वारा निर्देशित फिल्म 2022 में प्रदर्शित हुई ,जिसने एक पाकिस्तानी कार ड्राइवर की भूमिका निभाई ।

टी सीरीज के एक वीडियो सॉन्ग में नवीन वात्सायन एक मॉडल के रूप में शानदार अभिनय करते नज़र आए,जिसे बॉलीवुड की प्रसिद्ध गायिका साधना सरगम और आज़म अली मुकर्रम ने गाया, और निर्देशन जगत गौतम ने किया था। नवीन को एक और पंजाबी फिल्म का ऑफर भी मिल चुका है जिसकी शूटिंग कुछ ही दिनों में आरंभ हो जाएगी।

बिलासपुर के नवीन वात्सायन हिंदी बॉलीवुड फिल्म में बिखेरेंगे अपना जादू, फिल्म “मोदी जी की बेटी ” अगले महीने हो रही रिलीज https://rb.gy/3u5nmy